बुधवार, 22 अक्तूबर 2008

धन त्रयोदशी – इसी दिन देवताओं के वैद्य धनवंतरि ऋषि अमृत कलश सहित सागर मंथन से प्रकट हुए थे । अतः इस दिन धनवंतरी जयंती मनायी जाती है । निरोग रहते हेतु उनका पूजन किया जाता है
हमारे सभी पाठकोंको धनवंतरी जयंतीकी हार्दिक शुभाकामनाये!!

1 टिप्पणी:

Kaise Aur Kya ने कहा…

आयुर्वेद की सही जानकारे दी गयी है | जानिए Sanyasi Ayurveda in Hindi के बारे में